वो हसीन लम्हे-1

Wo Hasin Lamhe-1

एक बार फिर मैं एक और सत्य घटना लेकर आपसे रूबरू हो रहा हूँ, यह कहानी एक 33 वर्षीया विवाहित युवती की है, इस कहानी को शब्दों का आकार मैंने ही दिया है। इस घटना को एक कहानी के रूप में पेश कर रहा हूँ, आशा करता हूँ, आपको यह कहानी जरूर पसंद आयेगी।

आगे की कहानी उसी युवती की जुबानी:

हेल्लो दोस्तो, मैं साजन जी की बहुत आभारी हूँ जो उन्होंने मेरी इस घटना को अपने शब्द दिए। अब मैं आपको ज्यादा बोर न करती हुई सीधे अपनी कहानी पर आती हूँ। मेरा नाम मनीषा है (बदला हुआ नाम) मेरा फिगर 36-30-36 है, मैं इतनी गोरी हूँ कि इस उम्र में भी कोई भी मुझे एक बार देख ले तो वो मेरा दीवाना हो जाये। मेरी शादी को 11 साल हो चुके है, और मेरे पतिदेव एक इंजिनियर है।

मेरे दो छोटे–छोटे बच्चे है, एक 9 साल का और दूसरा 7 साल का। मैं एक संयुक्त परिवार से हूँ, मेरे पति से बड़ा उनका एक बड़ा भाई ओर है। उनके भी दो बेटे है, यह घटना मेरे जेठ के बड़े लड़के और मेरी बीच घटित हुई है। मेरे जेठ के बड़े बेटे का नाम वीरेन्द्र है, उस समय उसकी उम्र 22 साल थी और मैं 32 साल की थी।

वीरेन्द्र भी उस समय इंजीनियरिंग कर रहा था और वो होस्टल में रहा था। एक दिन मेरे जेठ और जेठानी और उनके दोनों लड़के हमारे घर आये और अपने बड़े बेटे को हमारे घर छोड़कर अपने छोटे बेटे को लेकर बाहर किसी रिश्तेदारी में दो दिन के लिए चले गए थे।

मेरे पतिदेव ऑफिस में और मेरे बच्चे स्कूल गए थे। मेरे ससुर गाँव गए हुए थे, क्योंकि उनके बड़े भैया का स्वर्गवास हो गया था। उसी दिन सुबह दस बजे की बात है, मैं किचन में खाना बनाने की तैयारी कर रही थी। वीरेन्द्र भी वही पर किचन के बाहर शेविंग कर रहा था। हम दोनों अक्सर एक दूसरे से मजाक किया करते थे।

उस दिन उसने अपनी शेविंग करने के बाद मुझसे ऐसे ही मजाक में कहा- क्या आपकी भी शेविंग कर दूँ?

मैं वीरेन्द्र को प्यार से वीरू बुलाती थी, मैंने वीरू से कहा- मेरी शेव नहीं आती पर हाँ मेरी बगल के बाल बड़े हो गए है। तुम उन्हें शेविंग कर दोगे क्या?

मेरी बार सुन कर वीरेन्द्र पहले तो थोड़ा शरमाया फिर कुछ सोच कर मुझसे बोला- ठीक है ! मैं वहाँ की शेविंग कर दूँगा।

मैंने वीरेन्द्र से कहा- ठीक है, पर यहाँ नहीं ! किचन में शेव करोगे तो बाल यहाँ फैल जायेगे। अभी थोड़ी देर बाद बाथरूम में कर देना। वीरेन्द्र ने कहा- आप अभी चलिए न, फिर मैं नहाने जा रहा हूँ उसके बाद में नहीं कर पाऊँगा।

मैंने भी सोचा ठीक है, आज घर पर कोई है भी नहीं, तो मैंने भी उसको कह दिया- ठीक है ! तुम बाथरूम में चलो, मैं अभी आती हूँ।

फिर हम दोनों बाथरूम में पहुँच गए उस दिन मैंने शिफोन की काले रंग की प्रिन्ट वाली साड़ी और काले ही रंग का ब्लाउज पहना हुआ था। मेरे बाल खुले हुए थे, जोकि मेरी खूबसूरती में चार चाँद लगा रहे थे। वीरू ने मुझे अपना ब्लाउज उतारने को कहा ! मैंने ब्लाउज के बटन खोलने शुरू किये ही थे कि तभी मेरी नजर उसके शॉर्ट्स पर पड़ी, उसमें उसका लंड खड़ा हुआ था और मुझे उसमें खम्बा सा बना हुआ लग रहा था।

मुझे वीरू का लंड शॉर्ट्स में देख कर बहुत अच्छा लगा क्योंकि वो मेरे पतिदेव से बड़ा लग रहा था। फिर मैंने अपना काले रंग का ब्लाउज उतार दिया। अब मैं वीरू के सामने सफ़ेद ब्रा में थी। वीरू ने मुझे अपना एक हाथ ऊपर उठाने को कहा तो मैंने अपना एक हाथ ऊपर कर दिया। फिर वीरू मेरी बगल के बाल साफ़ करने लगा मुझे उसके इस काम से एक मीठी सी गुदगुदी हो रही थी।

शेविंग करते समय वीरू का हाथ कभी-कभी मेरी बगल से मेरे स्तनों को स्पर्श हो रहा था। वीरू मेरे चूचों को देख रहा था, उसकी इस नज़र से ही मैं गर्म हो रही थी। उसके पास होने से उसकी गर्मी से मुझे बहुत आराम महसूस हो रहा था।

यह कहानी आप sol1.ru में पढ़ रहें हैं।

तभी वीरू ने मुझे अपना दूसरा हाथ ऊपर करने के लिए कहा उसके कहने पर मैंने अपना दूसरा हाथ ऊपर कर दिया। फिर वो मेरी दूसरी बगल में भी शेव करने लगा। शेव करते वक़्त वीरू का हाथ बार बार मेरे बूब्स से छूने मात्र से ही मैं बहुत ज्यादा उत्तेजित हो गई थी, अब मुझसे कंट्रोल नहीं हो पा रहा था।

मेरी बगल की शेविंग करने से मेरी ब्रा पर कुछ बाल चिपक गए थे। वीरू ने उनको साफ़ करने के बहाने से उसने मेरे उरोजों को धीरे से दबा दिया।

‘आअह्ह्ह्ह !’ मेरे मुँह से हल्की सी सिसकारी निकल गई। उसके इतना करने से मुझे कंट्रोल नहीं हुआ और मैंने वीरू का हाथ पकड़ कर अपने सीने पर दबा दिया। यह कहानी आप sol1.ru पर पढ़ रहे हैं।

मेरी इस हरकत से वीरू समझ गया कि मैं उससे चुदने के लिए तैयार हूँ और फिर वो मेरे बूब्स को दबाने लगा और मेरे गाल और गर्दन पर चुम्बन करने लगा। मैंने वीरू का सर पकड़ कर अपने होंठ उसके होंठ पर रख दिए फिर मैं वीरू के होंठ को चूसना शुरू कर दिया और वीरू भी मेरा साथ देने लगा।

वीरू को भी कुछ कुछ होने लगा, उसने मुझे अपनी बाहों में उठाया तो मैं वीरू के गाल को चूमने लगी। वह मुझे उठाकर बेडरूम में ले गया और बेड पर लिटा दिया, फिर बेड पर मेरे पास बैठ गया और मेरे नंगे पेट पर हाथ फिरने लगा। फिर मेरे पेट पर झुक कर वीरू मेरे पेट को चूमने लगा।

मैंने वीरू को पकड़ा और उसे अपनी तरफ खींच लिया। वीरू मेरे ऊपर आते ही उसने अपना एक हाथ मेरी गर्दन के नीचे डाल दिया और मुझे थोड़ा सा ऊपर उठाते हुए मेरा निचला होंठ अपने होंठ में दबा कर चूसने लगा। मैं भी वीरू का साथ देने लगी, कभी वो मेरा ऊपर का होंठ चूसता तो कभी नीचे का होंठ, मेरा हाथ वीरू की गर्दन पर था। फिर उसके बाद वो मेरे गले को चूमने लगा।

मेरे गले को चूमता हुआ वो मेरी छाती पर पहुँच गया और मेरी ब्रा से बाहर निकल रहे बूब्स को चूमने लगा। वीरू मेरी छाती को चूमते हुए मेरी ब्रा पर पहुँच गया। अचानक उसके मुँह में मेरी बगल का एक बाल आ गया जोकि उसने कुछ देर पहले साफ़ किये थे। इसलिए वीरू ने अपना मुँह वहाँ से हटा लिया और अपने मुँह को साफ़ करने लगा।

अपना मुँह साफ़ करने के बाद उसने मेरी साड़ी और मेरा पेटीकोट खोल कर उतार दिया और फिर मेरी ब्रा को भी उतार कर मेरे बदन से अलग कर दिया। अब मैं वीरू के सामने सिर्फ लाल रंग की पेंटी में बेड पर लेटी हुई थी। मेरी नग्न चूचियों को देखकर वो उसको अपने हाथो से दबाने लगा और फिर एक एक करके मेरी दोनों चूची को चूसने लगा। काफी देर तक वो मेरी चूची को पागलों की तरफ चूसता और दबाता रहा।

फिर वो मेरे पैरों की तरफ गया और मेरी लाल रंग की पेंटी को उतारने लगा, मैं अपनी पेंटी को उतारने में वीरू की मदद करने लगी। मैंने अपने दोनों पैर मोड़ कर अपने चूतड़ ऊपर उठा दिए और वीरू ने मेरे पैरो से मेरी पेंटी निकल दी। मैंने अपने कूल्हे अब भी ऊपर उठा रखे थे। वीरू ने अपने दोनों हाथ मेरी गांड के नीचे लगा कर मुझे सहारा दिया तो मैं वीरू को दिखाते हुए अपने दोनों हाथ अपनी चूत पर फिराने लगी।

वीरू ने मुझे अपनी चूत पर हाथ फेरते देख उसने अपना एक हाथ मेरी गांड से हटा कर मेरी चूत पर रख दिया और मेरी चूत के दाने को अपने हाथ से रगड़ने लगा।

उसके बाद वीरू मेरी चूत के ऊपर झुक गया और अपने होंठ मेरी चूत से लगा दिये। वीरू मेरी चूत को अपने मुँह में भर कर चूसने लगा और मैं आनंद के सागर में गोते लगते हुए अपनी चूत को वीरू के मुँह पर रगड़ने लगी। वीरू अपनी जीभ को मेरी चूत की दरार में फिराने लगा। मैं उसकी इस हरकत से मस्ती में दोहरी हुए जा रही थी और मैं अपने ही हाथ से अपनी चूची को जोर जोर से दबाने लगी।

मेरी गुलाबी रस भरी चूत को वीरू चाटे ही जा रहा था और मैं मस्ती में उड़े जा रही थी। फिर वीरू ने अपनी जीभ मेरी चूत के अन्दर घुसा दी, मेरे मुँह से सिसकारियाँ और तेज हो गई। मेरे हाथ वीरू के सर के बाल सहला रहे थे। वीरू ने मेरी चूत चूस चूस कर पानी पानी कर दी थी अब तो मुझसे भी नहीं रहा जा रहा था इसलिए मैंने वीरू को बेड पर पकड़ कर लिटा दिया।

sol1.ru में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!


"साली की चुदाई""sexi new story""chudai kahani maa"Gunde Se Chudwaya Hindi Sex StoryMastram sexy शालू दीदी"sexy story with pic""chodai k kahani""kamukta story in hindi""kamvasna sex stories""desi sex story"Sexxx khani photo bhabhi"sagi bahan ki chudai ki kahani""chudai ka nasha""teen sex stories"Subscribe us via Email Enter your email address to subscribe to this Website and receive notifications of new posts by email. Subscribe इस वेबसाइट में आने के लिये अपने वेब ब्राउज़र से हमेशा HotSexStory.xyz लिखकर सीधे सर्च करे…. Privacy Policy HotSexStory.xyz Bookmark Us Copyright © 2020 Hot Sex Story. All rights reservNonveg ma bete ki chudai xyz.piragnint karna wali chudai likhkar bhara.gurop.khane sex"erotic stories hindi""antarvasna ma"sexstoryinhindi"kamukta khaniya"bahan chudai ki kahaniyan 2021 panti braDudai me hoonymoon hindi sex storyभांजी की चुदाई की हिन्दी कहानियाँ"indian sex st""india sex stories"hindisexikahaniya"www chodan dot com""kaumkta com""my hindi sex stories"hindi sex kahani"group chudai kahani""xxx stories""new sexy story hindi com""chut ki rani"Sexy Nonveg chut ki khujali story"jija sali sex story in hindi"maa musi or behen ke satha kahani sex"hindi lesbian sex stories""mami k sath sex""first time sex story""bahu ki chudai""new hindi sexy storys""सेकसी कहनी""new sex hindi kahani""risto me chudai""hindi group sex story""lund bur kahani""stories sex""hiñdi sex story""sex story of girl"hindi sex kahaniya mera baap meri bra panti ki sughkarsexy picture Suhagrat manae aaenge Hindi film"sex kahani hindi new"कोठे वाली रंडी की दो लंड से चुदाई कहानीchudaikikahaniRandi beti ki group chudai sex stories in Hindi hot sexey storysexstoryhotsexstoryhotsexstory.xyzdesi pahalwan se chudi kahani"hindi sexi stories""sex story hindi"hotsexstory xyz athlete boyfriend ne tagde lund se gazab choda teen girls"kaumkta com""mausi ki chudai ki kahani hindi mai"मैं और मेरी बहू अदिति चूमने लगे"pati ke dost se chudi""sex kahani bhai bahan""kamukata story""indian sex storirs""uncle ne choda""deepika padukone sex stories"sambhog ka sukh adult stories hindi mekhaniyaread"hindi sexy story hindi sexy story""sex kahani photo ke sath"पति पतनि दरद सेकस कथा"xxx story in hindi""desi chudai stories""sex stori in hindi""hot hindi sexy story"bhai ne harakar choda sex storyhotbhabiSexyStory"hot khaniya""bhai behen sex"mousi ke sath 1st a c cabin train me chudai k veje "indian sex storie""bhai bahan ki sex kahani"hindisexkahaniphoto shoot ke chakkar me chodayi storywww.hindisexykahaniLip kiss ki step likhar bheje"hindi sexy story hindi sexy story"Saheli ki mast chudai hindi me kahaniya"www hot sex story com"खुशबू को अनूप ने चोदा Xxx कहानियाँlikhkr.seksbhte.mame