मामी के साथ बिताई एक रात बनी सुहागरात-2

Mami ke sath bitai ek raat bani suhagraat-2

Mami ki chudai, पर मामी ने अपना हाथ से अपने बुर को टटोला और मेरा हाथ वहाँ पाकर थोड़ी देर उनका हाथ वहीं रुक गया. शायद वो भी सन्न रह गयी थी. मैं चुप चाप सोने का नाटक कर रहा था और सोचा कि अब मामी मेरा हाथ वहाँ से निकाल कर मुझे दूर धकेल देंगी. पर मामी जी ने वो किया जो मैं सोच भी नहीं सकता था. उन्होने मेरा हाथ ना हटाते हुए अपनी बुर खुजाने लगी और खुजाते खुजाते अपनी पैंटी थोड़ी नीचे सरका दी जिससे कि उनका बुर आधा खुल गया और फिर सोने का नाटक करने लगी. मेरी उंगली अब भी उनकी पैंटी में थी पर अब जब उन्होने पैंटी थोड़ी नीचे सरका दी तब मैं भी समझ गया कि मामी जी चुप चाप मज़ा ले रही है.

फिर भी मैं थोडा रुका और फिर अपना हाथ बिल्कुल उनकी जाँघ पर से उठाकर सीधे उनके बुर पर रख दिया. मामी की पैंटी का एलास्टिक अब भी मेरी उँगलियों और उनके बुर के बीच आ रहा था तो मैंने हिम्मत करके धीरे से एलास्टिक उठा कर अपनी उंगलियों को उनकी पैंटी के अंदर घुसा दिया. मेरी बीच की उंगली मामी के बुर के स्लिट पर थी और जब मैंने धीरे से अंपनी उंगली मोड़ी तो वो उनकी गीली बुर में चली गयी मामी ने भी अब पैर और फैला दिए और अपना एक हाथ मेरे हाथ के उपर रख दिया. लेकिन वो अब भी सोने का नाटक कर रही थी. मैंने भी अब अपनी दूसरी उंगली मोड़ी और वो भी मामी की बुर में पेल दी.

रूम में वैसे भी सन्नाटा था और अब मामीजी की साँसे ज़ोर ज़ोर से चल रही थी. अब तक तो सिर्फ़ मेरे हाँथ मामी की जवानी को टटोल रहे थे पर अब मैं बिल्कुल मामी के करीब उनसे सट गया और अपना मूह उनके मूह के पास ले गया. हमारी गाल आपस में छू गये और मामी ने अपना चेहरा इतना घुमाया की उनके होंठ मेरे होंठों से बस धीरे से छू भर गये. उनकी साँस की गर्मी मेरे होंठों पर आ रही थी. मैं भी थोडा सा इस तरह एडजस्ट हो गया की मेरा होंठ बिल्कुल उनकी होंठों पर सट गया.

उधर मेरी उंगलियाँ मामी की बुर में अपना कमाल दिखा रही थी और मामी भी अपने हाथ से मेरे हाथ को अपनी बुर पर दबा के रखा था. मामी की गरम गरम गीली बुर में अब मैं खुल्लम खुल्ला उंगली कर रहा था और मामी अब भी नींद में होने का नाटक कर रही थी. मैंने सोचा अब बहुत नाटक हो गया. अब तो असली जवानी का खेल हो जाए. मैंने मामी की बुर में अपनी तीन उंगली डाल कर ज़ोर से दबा दिया और साथ में मामी के होंठों पर अपने होंठ चिपका दिए.

मामी के मुंह से आह निकल गयी और उनका मुंह थोडा सा खुल गया. तुरंत ही मैंने अपनी जीभ उनके मुंह में घुसा दी और मामी की बुर से हाथ निकाल कर तुंरत उनको अपने बाहों में कस कर लिपट लिया. “उह्ह… ये क्या रहा है तू…छोड़ मुझे तू.. मामी ने मुझे यह कहते हुए धकेलना चाहा. पर मैंने भी उनको कस कर पकड़ लिया और बोला कि मुझे मालूम है तुम पिछले आधे घंटे से जाग रही हो मेरी उंगली करने का मज़ा ले रही हो. तब मामी ने मचलना बंद कर दिया और मेरी बाहों में शांत हो कर पड़ी रही. मामी बोली” शैतान कहीं के, तुझे डर नहीं लगा मेरे साथ यह करते हुए ?”

मैंने कहा कि डर तो बहुत लगा था पर अब डर कैसा. अब तो तुम ना भी बोलोगी, तब भी तुम्हारी गांड मारकर ही दम लूँगा इसी बिस्तर पर. कौन जानेगा कि इस घर के अंदर यह भानजा अपनी मामी के साथ क्या कर रहा है. यह कहते हुए मैंने अपना हाथ मामी के पीठ पर से नीचे सरकते हुए उनके गांड के गोलाईयों पर ले गया और पीछे से उनकी पैंटी की एलास्टिक को पकड़कर पैंटी नीचे सरका दी.

वो बोली “लल्ला तूने तो मुझे गरम कर दिया है.
बस अब क्या था. मामी जी ने अपना पैंटी पैर में से निकालकर साड़ी उतार दी. मैंने भी अपना लूँगी खोल कर अंडरवीयर निकाल फेंका. फिर मामी को बिस्तर पर पीठ के बल दबाकर उनके ब्लाउस के बटन खोलने लगा.

“आज तुम्हारी जवानी का स्वाद लूँगा मेरी जान” मैंने ब्लाउस खोलते हुए एकदम फिल्मी अंदाज़ में मामी से बोला. मामी ने भी उसी अंदाज़ में कहा, “भगवान के लिए मुझे छोड़ दो, मैं तुम्हारे पांव पड़ती हूँ”

यह कहानी आप sol1.ru में पढ़ रहें हैं।

सारे बटन खोलने पर मैंने ब्लाउस को पकड़ कर साइड में कर दिया और मामी के ब्रा से ढके हुए चुचियों पर अपना मुह रख दिया. मामी ने भी अब बेशरम हो कर मेरा सर को अपनी चूची पर दबा दिया और बोली, “लल्ला क्या यह पैकेट नहीं खॉलोगे”

उनका इशारा उनकी ब्रा के तरफ था. मैंने तुंरत उन्हे उठाया और पलंग के बगल में खड़ा करके उनकी ब्लाउस और ब्रा उनसे अलग कर दी. फिर पेटिकोट का नाडा भी खींच कर खोल दिया और वो भी उनके पैरों के पास ज़मीन पर गिर गया. मामी को इस तरह नंगा कर उनको पलंग पर खींच लिया और सीधे उनके उपर लेट गया. अब मैं उनकी चुचियों को आराम से चूस रहा था और वो मेरा सर अपने हाथों से सहला रही थी.

कुछ देर बाद मामी अपना हाथ मेरे लंड पर ले गयी और बोली” लल्ला नाश्ता हो गया. अब डिनर हो जाए?”

मैं भी तैयार था, पूछा वेज या नॉन वेज ?”

वो बोली की वेज तो रोज़ ही लेते हो आज नॉन वेज चख लो” यह कहते हुए मामी ने मेरा लंड उनके बुर के मुहाने पर रखा और मैंने उनको फाइनली पेल दिया. पेलते पेलते मामी एकदम मस्त हो गयी और अपने दोनो पांव मेरे कमर के उपर लपेट दिया. मैं उनको पेलता रहा और साथ साथ चूमता रहा.

मैंने अपना एक हाथ मामी के गांड के पीछे ले जाकर उनकी गांड में एक उंगली घुसा दी. तभी मामी एकदम ऐंठने लगी और कस कर मुझे पकड़ लिया. लल्ला और ज़ोर से चोदो……बोलते बोलते वो आख़िर झड़ गयी और फिर शांत हो गयी. पर मेरा पेलना अभी चालू था और लगभग 10 – 15 झटकों के बाद मैं भी मामी के बुर में ही झड़ गया. हम दोनो पसीने पसीने हो गये थे और में मामी के उपर ही पड़ा हुआ था.

कुछ देर बाद मामी उठी और बाथरूम जाकर आई. मैं भी अब अंडरवीअर पहन चुका था. मामी ने सिर्फ़ पेटिकोट पहन रखा था. आकर बोली ” लल्ला, तुम्हारे साथ जो किया वो तो अभी हम आगे भी बहुत बार करेंगे. पर यह बात किसी और को मालूम नहीं होने पाए. सबके सामने मैं तुम्हारी मामी ही हूं” मैंने भी उनको अपने बाहों में लेते हुए बोला” सबके सामने क्यों मामी, यहाँ पलंग पर भी तुम मेरी मामी ही हो. और तुम्हारी यह जवानी की मिठाई तो मैं अकेले ही खाऊँगा. सब मामाजी को ही मत खिला देना मामी हँसी और अपना हाथ फिर से मेरे अंडरवीअर में डाल दिया.

sol1.ru में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!


"इंडियन सेक्स स्टोरी"2020 विधवा की चूदाई की कहानियाँप्रिंसीपल मेडम की सर्दी में गांड मारी"gaand marna""hindi chudai kahani photo""sexy story marathi"Bhanji ki beti ki chudai ki kahanisex bhar 2019 chut"hindi gay kahani""jija sali sexy story""hindi sexy khanya"bibi ki saheli padosan sex storybhabhi di fuddi fatti khullinadan maa beta sex story"maa beta sex story com""bahan ki chudayi"daana sex storie"bhanji ki chudai"चुदाई का भूत उतर गया"सेक्सी लव स्टोरी"mom ki hot hinde sex storymaa new chudai kahanai 2020kamukhtaजाजी लंड सालीबूर कहानी ताकत वाला लंड Hot Sex Stories Sol1.ru"sex story with pics""sexy chachi story"sex story hindi"sexe store hindi"sex.stories"sexy khaniya"लंबे लैंड से सेक्स की कहानियां"www hindi sex katha""sex story with photos""kamukata sex stori""indian porn story"चाची की चुत मे लाड घुसा और सील टुटीhindisexstory"hindi sexy srory"incestdesichudaikahani.comkamkta"chodan hindi kahani"चूत चाटने छूट को पीटने का मजाHot mom hindi sex kahani"www hindi sexi story com""desi khaniya"hot cudai bivi ki saheli ki sexikamukat kachchi kali chut chudai ka josh chudai ki hindi khani"hiñdi sex story"mom ki gangagi me pani me chuday khani"indian hindi sex stories"kamukata"kamukta com hindi me""hot hindi sexy stores""hindi sax istori"ghar ki randiyan chudai kahaniWWW URDU SEX SETORI COM"chudai hindi""adult story in hindi""desi chudai stories""indian lesbian sex stories"Mausi ko a.c sirvise k bahany choda"sasur bahu ki chudai""meri bahen ki chudai"cousin ki patni KE sath sex stories"office sex story""sex hindi kahani"kamukat"बहन की चुदाई""maa beta sex""kamukta com hindi sexy story""chut ki pyas"Xxx new nonvege hotsex story in hindi"chudai story with image"bete ke samne sexstories"chudai sex""सेक्स स्टोरी""real sex kahani""photo ke sath chudai story""www hindi sex history"